मासी बनी मेरी वासना की साथी

फिर मैंने मासी को बिस्तर पर चित लेटा दिया और बांहों में भर कर उनके होंठों को चूमने और चूसने लगा. अब वो भी मेरा पूरा साथ देने लगीं और मुझे चूमने लगीं. मैं अपनी जीभ को उनके मुँह में डाल कर चूस रहा था और मासी की चूची को भी मसल रहा था… पढ़ना जारी रखें “मासी बनी मेरी वासना की साथी”