कहानी मेरे गांडू बनने की

अक्सर लोगों के मुँह से सुनता रहता हूँ कि ” डर के आगे जीत है”. लेकिन मेरी जिंदगी का फलसफा बना ” दर्द के बाद मजा है”. बचपन से सारे शौक तो मेरे लड़के वाले ही थे. लेकिन उस एक घटना ने मेरी जिन्दगी बदल दी.  अब मैं और मेरा प्रेम लिंग भेद से परे है…….

पढ़ना जारी रखें “कहानी मेरे गांडू बनने की”