दोस्त की बहन की सील तोड़ी

अब मेरे होंठ उसके होंठ पर थे और मेरा बायां हाथ उसकी बायीं चूची पर था और मेरा दायां हाथ उसकी चूत पर फिसल रहा था. जिस कारण उत्तेजना वश उसके मुंह से मादक सिसकारियां निकल रही थीं. अब मैं उसकी चूची को चूसते हुए नीचे की तरफ गया और उसकी नाभि में अपनी जीभ घुमाने लगा… पढ़ना जारी रखें “दोस्त की बहन की सील तोड़ी”