शायद चुदासी थी मेरी ममेरी बहन

अब मैंने उसके पीछे जाकर लंड को उसकी चूत के छेद में लगाकर दबाया तो लंड बड़े आराम से अंदर चला गया. तभी वो बोली, “भैया, ऐसा लग रहा है कि यह अंदर कहीं टकरा रहा है.” लेकिन 2-3 आराम वाले झटकों के बाद अब उसे भी मज़ा आने लगा और वो ‘आह! आह!’ की आवाजें निकालने लगी… पढ़ना जारी रखें “शायद चुदासी थी मेरी ममेरी बहन”