दीदी के ननद की चुदाई

लड़ अन्दर जाते ही उसके मुँह से “उफ़” की आवाज़ आयी और वो मुझसे लिपट गई। ठंड बहुत थी। लेकिन हमारी बॉडी भी बहुत गर्म थी। कम से कम मेरा हथौड़ा और उसी भट्ठी पूरी तरह दहक रही थी। मैंने उसके होठों को चूसना शुरू किया और अपने हाथो से उसकी पीठ सहलाने लगा……

Read more