मेरा पहला प्यार मेरी दोस्त की भाभी

अब तो उनसे भी बर्दास्त नहीं हो रहा था. अब वो जोर से आग़े – पीछे करने लगी. उन्हें दर्द होने लगा पर मैंने नीचे से अपनी स्पीड जारी रखी. कुछ देर बाद उनकी चिल्लाहट कम हुई. उन्हें दर्द अभी भी हो रहा था, लेकिन अब मज़ा भी आने लगा था… पढ़ना जारी रखें “मेरा पहला प्यार मेरी दोस्त की भाभी”