शादी पार्टी में मुझे लन्ड मिला सुन्दर

जब वह पानी पीने गया तो मैं जल्दी से उसके आगे जाकर खड़ा हो गया और झुक के पानी पीने लगा ताकि मेरी गांड उसके लंड को छुए. पानी पीते – पीते मैं अपनी गांड को उसके लंड पर ऊपर – नीचे कर रहा था. शायद वो मेरा इशारा समझ गया था. इसलिए जब मैं पीछे पलटा तो वो मुझे देख कर मुस्कुरा रहा था. फिर मैंने भी उसे एक कटीली मुस्कान दे दी…

हेलो दोस्तों! मेरा नाम अजय है और मैं उज्जैन मध्य प्रदेश का रहने वाला हूँ. अभी मेरी उम्र 26 साल है और मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ. दोस्तों, मैं अपने स्कूल के दिनों से ही गांड मरवा रहा हूँ. अन्तर्वासना के बारे में पता भी मुझे कॉलेज में आकर ही लगा.

दोस्तों, मैंने सबसे पहले अपनी गांड तब मरवाई जब मैं 10 वीं क्लास में था. तब मैंने अपने एक दोस्त से मेरी गांड मरवाई थी. अब आप लोगों का ज्यादा समय ख़राब न करते हुए मैं अपनी लेटेस्ट गांड मरवाने वाली कहानी बताने जा रहा हूँ, उम्मीद करता हूँ आप सब को पसंद आएगी.

मैं 12 फरवरी 2016 को शादी की एक पार्टी में गया था. वहां पर डिनर करते वक्त मुझे एक बाँका नौजवान मिला. वो लड़का मुझे पहली नज़र में ही पसंद आ गया था. अब बस मैं उससे अपनी गांड मराने के बारे में सोचने लगा.

जब वह पानी पीने गया तो मैं जल्दी से उसके आगे जाकर खड़ा हो गया और झुक के पानी पीने लगा ताकि मेरी गांड उसके लंड को छुए. पानी पीते – पीते मैं अपनी गांड को उसके लंड पर ऊपर – नीचे कर रहा था. शायद वो मेरा इशारा समझ गया था. इसलिए जब मैं पीछे पलटा तो वो मुझे देख कर मुस्कुरा रहा था. फिर मैंने भी उसे एक कटीली मुस्कान दे दी.

पानी पीने के बाद मैं वहीं पास में खड़ा हो गया. थोड़ी देर बाद वो मेरे पास आया और बोला – बहुत गांड घिस रहा है, मरवानी है क्या?

उसके मुंह से ये बात सुन कर मैंने थोड़ा खुश होते हुए उससे पूछा – जगह है तुम्हारे पास?

तो वो बोला – मैं कार से आया हूँ. हम लोग हाईवे पर चलते हैं, वहां मैं एक जगह जनता हूँ. वहां अंदर जाने पर कोई नहीं आता. वहां चल कर हम लोग मज़ा कर सकते हैं.

उसके तैयार होने उसके मुंह से जगह का इंतजाम सुन कर मैं उसके साथ जाने के लिए तुरंत तैयार गया. फिर हम दोनों उसकी कार में बैठ कर चल दिए. रास्ते में मुझसे रहा नहीं गया तो मैं कार में ही उसके लंड पर अपना हाथ लगाने लगा. तो वो बोला – इसे बाहर तो निकाल.

फिर तुरन्त ही मैंने उसकी पैंट की चैन खोली और उसका लंड बाहर निकाल लिया. उसका लंड देख कर मेरी आँखें खुली के खुली रह गईं. उसका लन्ड बहुत ही सुन्दर था. उसके सुंदर लन्ड को देखते ही मैंने तुरंत अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगा. मैं चलती कार में उसका लंड चूस रहा था और ऐसा करने में मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

तभी उसने कार को मोड़ा और मेन सड़क से कट रहे एक कच्चे रास्ते की तरफ कार घुमा ली. फिर थोड़ा अंदर जाकर उसने कार रोकी और मुझसे बोला कि चल अब बाहर निकल. फिर हम दोनों कार से बाहर निकले और वो कार के बोनेट के आगे खड़ा हो गया और मैं नीचे बैठ गया और उसके मस्त लन्ड को बाहर निकला और चूसने लगा.

फिर करीब 15 मिनट तक मैं उसका लंड चूसता रहा. इस दौरान वो मेरा मुंह पकड़ कर अपना लंड मेरे मुंह में अंदर – बाहर करने लगा. इससे उसका लन्ड मेरे गले तक पहुंच रहा था. फिर थोड़ी देर बाद वो बोला – यार, तू तो बड़ा मस्त लंड चूसता है.

थोड़ी देर तक लन्ड चूसने के बाद फिर मैं खड़ा हुआ और मैंने उससे कहा कि “वो कार थोड़ा और अंदर ले चले.” वो मेरी बात मान गया और कार अंदर ले गया. कुछ दूर जाकर हम फिर कार से बाहर निकले और उसने मुझसे कहा – अच्छा चल, अब खोल अपनी पैंट.

मैंने कहा – ऐसे नहीं मेरे जानू, पहले मुझे गर्म तो कर.

तो उसने मुझे कार के बोनेट पर लिटा दिया और फिर मेरे गालों पर किस करने लगा और मेरे होठ चूसने लगा. मैं भी उसे खूब किस कर रहा था. फिर वह अपना हाथ मेरी शर्ट के अंदर ले गया और जैसे ही उसने मेरे छोटे – छोटे स्तन छुए तो वह बोला – यार, तू तो एक दम लड़की है साले!

फिर ये बोल कर उसने मेरी शर्ट के सारे बटन खोल दिए और मेरे छोटे – छोटे दूध चूसने और उन्हें ज़ोर – ज़ोर से दबाने लगा. जिससे मेरे मुंह से सिसकारी निकलने लगी. मैं “आह्ह्ह, आहह अह्ह्ह्हह, ईह धीरे – धीरे करो न, आहह धीरे काटो यार” बोलने लगा.

अब उसने धीरे से मेरा पैंट खोल कर उसे नीचे कर दिया और फिर उसने मेरी चड्डी में हाथ डाला और फिर बोला – अच्छा, चल अब खोल, बहुत ही गया.

फिर मैं बोनेट से उठा और अपनी शर्ट उतार कर कार में ड़ाल दिया और फिर अपनी पैंट भी एक दम से उतार दिया. तो वो बोला – अबे साले गांडू, नंगा मत हो.

तो मैंने कहा – इसीलिए मैंने तुझे इतनी अंदर आने का बोला था.

फिर इतना कह कर मैंने अपनी चड्डी भी उतार दिया. अब मैं पूरा नंगा था. फिर मेरे सामने ही उसने अपनी पैंट उतारी और मैंने उसको कंडोम दिया. अब उसने अपने लंड पर कंडोम लगाया और मेरी गांड में अपना लन्ड घुसा दिया. फच्च की आवाज के साथ उसका लंड मेरी गांड में घुस गया था.

मैं बोनेट पे झुका हुआ था और वो मेरी कमर पकड़ के मेरी गांड में अपना अंदर – बाहर कर रहा था और मेरे मुंह से लगातार सिसकियाँ निकल रही थी और मेरी गांड में उसका मस्त लंड फचाफच अंदर – बाहर हो रहा था. ‘मैं खुले आसमान के नीचे चुद रहा हूँ’ ये सोच कर मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

फिर मैंने उससे कहा कि ये मेरा ड्रीम था कि मैं खुले में चुदूं. फिर वो बोला – आगे भी मरायेगा अपनी गांड मुझसे.

तो मैंने कहा – बिलकुल मराउंगा.

फिर वो बोनेट पर बैठ गया और मैं उसके लंड पर बैठ कर ऊपर – नीचे होने लगा. इस बीच वो मेरे बूबे चूस रहा था. फिर वो नीचे से धक्के लगाने लगा. अब वो मेरी गांड बहुत ज़ोर – ज़ोर से मार रहा था और साथ ही मेरी गांड पर थप्पड़ भी मार रहा था. इस सबमें मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और मैं “ओह्ह्ह्ह्ह ओहहह, अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह, ओह माआअ मेरी गांड मारो, और ज़ोर से घुसा, और अंदर डाल साले और अंदर” करता जा रहा था.

फिर उसने फिर मुझे उल्टा झुकने को कहा. जिससे मैं झुक कर कुत्ता बन गया. फिर उसने पीछे से मेरी कमर पकड़ी और अपना लन्ड एक बार फिर से मेरी गांड़ में घुसा दिया. अब करीब 1 घंटा मज़ा (इस एक घंटे में किसिंग, सकिंग सब है) करने के बाद मेरा पानी निकलने वाला था. तो मैंने उसको कहा – यार मेरा पानी निकलने वाला है.

तो वो बोला – निकल रहा है तो निकाल दे, मैं तो अभी तेरी गांड मरता रहूँगा.

फिर कुछ देर बाद मेरा पानी निकल गया तो मैंने उससे कहा – यार, अब जल्दी से तू भी तेरा पानी निकल ले.

तो वो बोला- चुप बे साले, तू अपना मुंह बंद करके बस अपनी गांड मरवाता रह.

फिर कुछ देर बाद उसका भी पानी मेरी गांड़ के अंदर निकल गया और फिर वो मेरे ऊपर ही लेट गया. कुछ देर तक हम दोनों बोनेट पर ऐसे ही नंगे पड़े रहे और फिर हम दोनों ने अपने – अपने कपड़े पहने और कार में बैठ गए और कुछ देर तक ऐसे ही बैठे रहे.

फिर कुछ देर बाद वो बोला – यार, घर जाने से पहले एक बार और लन्ड चूस ले.

अब मैंने फिर से उसका लन्ड निकाल लिया और चलती कार में फिर से उसका लंड चूसने लगा. फिर मैरिज गार्डन, जहां से हम दोनों कार में चले थे वहां पर उसने मुझे वह ड्राप किया और फिर उसने मेरा नंबर लिया और मुझे अपना नंबर भी दे दिया. ताकि भविष्य में कभी मन हो तो गांड मार सके.

दोस्तों, ये थी मेरी कहानी उस रात की, आप सब को कैसी लगी? मुझे मेल जरूर करना. बाद में मैं अपनी और भी कहानियां यहाँ पर पोस्ट करूँगा. मेरी मेल आई दी है – [email protected]

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *