बॉयफ्रेंड से चुदवा चुकी चुदक्कड़ गर्लफ्रेंड को चोदा

मेरे बगल में रहने वाली एक लड़की से मैंने फ़ेसबुक के माध्यम से दोस्ती की. उसने मुझे बताया कि वह अपने पुराने बॉयफ्रेंड से कई बार चुद चुकी है. फिर मैंने उसे कैसे चोदा पढ़ें मेरी इस कहानी में…

हेलो दोस्तों, मेरा नाम वंश है और मैं जबलपुर का रहने वाला हूँ. मैं अभी भोपाल में हूँ और यहाँ रह कर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा हूँ. मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ और यहां पर ये मेरी पहली कहानी है.

अब मैं आपको अपने साथ घटी घटना के बारे में बताता हूँ. बात आज से 2 साल पहले की है. मेरे पड़ोस में एक बहुत ही खूबसूरत लड़की रहती है, जिसका नाम हिमांशी है. वो यहां पर बीएससी प्रथम वर्ष की स्टूडेंट है.

एक दिन फेसबुक चलते हुए मेरी नजर हिमांशी की प्रोफाइल पर पड़ी. फिर मैंने उसे रिक्वेस्ट भेज दी और अपना काम करने लगा. फिर जब शाम में मैंने अपनी प्रोफाइल खोली तो उसने रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली थी.

इसके बाद मैंने मैसेंजर पर उसे हाय लिख कर भेज दिया. थोड़ी देर के बाद उसने रिप्लाई दिया. फिर हमारी बात शुरू हुई. जब मैंने उसे बताया कि मैं वंश हूँ जबलपुर का रहने वाला तो उसने भी बताया कि वो भी जबलपुर की ही है.

फिर मैंने उससे पूछा कि जबलपुर में कहा से हो तो उसने हमारी ही कॉलोनी का नाम बताया. इसके बाद फिर मैंने उसे पहचान लिया और अपने बारे में बताया. इस तरह हम लोगों की बात होने लगी.

ऐसे ही बहुत सारी बात करने के बाद मैंने उस से पूछा कि तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है? तो उसने बताया कि हां पहले था लेकिन अब कोई नहीं है. इसके बाद उसने मुझसे पूछा की तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है तो मैंने कहा कि नहीं है.

इस पर उसने कहा कि मैं मान ही नहीं सकती कि तुम जैसे लड़के की गर्लफ्रेंड नहीं होगी. मैंने उसे विश्वास दिलाया कि सच में नहीं है. फिर ऐसे ही हमारी बातें चलती रही.

एक रात ऐसे ही बात करते – करते मैंने उससे पूछा कि तुमने कभी बॉयफ्रेंड के साथ सेक्स किया था? तो उसने बहुत ही सहजता से कहा कि हां बहुत बार किया है. एक बार तो उसने मेरे घर पर आकर भी मेरे साथ सेक्स किया था. फिर इस तरह से हमारी सेक्स की बात होने लगी.

एक दिन मैंने उस से पूछा की तुमको किस तरीका का सेक्स पसंद है तो उसने कहा कि सब तरीके का पसन्द है पर एनल सेक्स पसंद नहीं है. उसमें बहुत पेन होता है.

फिर मैंने उस से पूछ लिया कि क्या तुम मेरे साथ सेक्स कर सकती हो? तो उसने बड़े ही सहजता से कहा कि हां कर सकती हूँ पर स्पेस कहां है? इस पर मैंने कहा कि कल मैं तुमको बताता हूँ. फिर हम सो गए.

दूसरे दिन मैंने अपने एक दोस्त के रूम का जुगाड़ किया. वो मेरे घर के पास ही था और फिर मैंने हिमांशी को रूम के बारे में बताया तो वो मिलने को राजी हो गई.

फिर मैं उसके बताये जगह पर उसे लेने गया और अपने साथ बाइक में बैठा कर दोस्त के रूम आ गया. इसके बाद दोस्त को कुछ पैसे देकर बाहर भेज दिया. दोस्त के जाते ही मैंने दरवाजा बंद किया और उसको लेकर बिस्तर पर बैठ गया.

फिर थोड़ा सा उसके पास जा के उसके कंधे पर हाथ रख के उसे अपने पास लाया और फिर उसके होंठों पर किस करने लगा. अब उसने भी धीरे से मेरा साथ देना शुरू कर दिया.

फिर मैंने अपनी जीभ उसके मुंह में डाल दी और प्यार से उसके होंठों को चूसने लगा और धीरे से उसे बेड पर लिटा दिया. वो अब खुल कर मेरा साथ दे रही थी. फिर मैंने धीरे – धीरे उसके कपड़े को उतारना शुरू किया. पहले मैंने उसके काले कलर के टॉप को उतारा. उसके गोरे बदन को देख कर मैं अपना होश खोने लगा.

अब मैं उसके गले पर किस करते – करते उस के पेट को सहला रहा था और फिर धीरे से मैंने उसकी ब्रा का हुक खोल दिया. जिस से उसके गोरे दूध उछल कर बाहर आ गए. अब मैंने प्यार से उसके दोनों दूध को बहुत देर तक दबाया और सहलाया.

इसके बाद मैंने अपनी शर्ट उतार कर अलग कर दी और उसके दूध के पास मुंह ले जाकर दूध चूसने लगा. साथ ही मैंने उसकी जीन्स भी उतार दी थी. अब वह भी मेरा लंड जीन्स के ऊपर से सहलाने लगी. वो आहें भरने लगी थी और मैं जोर – जोर से उसका दूध चूसने लगा था.

फिर उसकी जीन्स उतार के मैंने उसकी पेंटी के ऊपर से ही चूत को सहलाने लगा. वो लगातार आहें भर रही थी और मेरे गले पर किस भी कर रही थी. फिर मैंने उसकी पैंटी और अपनी जीन्स भी उतार दी. इसके बाद मैं उसके दोनों पैर के बीच में आ गया और उसकी चिकनी चूत को चाटने लगा.

अब वो मेरा सर अपनी चूत में दबा रही थी और सर को सहला भी रही थी. साथ ही वह कहने लगी कि और जोर से चाटो और जोर से, खा जाओ मेरी चूत को आह्ह्ह आह्ह्ह जानू और चाटो और आह. अब मैं और जोर – जोर से उसकी चूत चाटने लगा और एक ऊँगली उसकी चूत में अंदर – बाहर करने लगा. अब वो जोर – जोर से आहें भर ने लगी.

फिर मैं चूत चाटते – चाटते अपना लन्ड उसके मुंह के पास ले गया. मतलब हम 69 की पोज़ में आ गए थे. अब वो मेरा 8 इंच लंबा आधा लंड मुंह में लेकर चूसने लगी. साथ ही कह भी रही थी कि बहुत बड़ा लंड है तुम्हारा, इससे तो मेरी चूत फट जायेगी, इसके साथ ही वह “आह्ह्ह्ह्ह् आह्ह्ह चाटो मेरी चूत को प्लीज अब डाल दो लन्ड मेरे अंदर” की मादक आवाज भी कर रही थी.

अब मैं उठा और उसकी चूत पर अपना लंड रख के सहलाने लगा. तभी उसने कहा कि आराम से डालना जानू बहुत बड़ा लंड है तुम्हारा. तो मैंने एक जोर का झटका मारा और मेरा आधा लण्ड उसकी चूत को चीरता हुआ अंदर घुस गया. जिससे वो जोर से चिल्लाई.

अब मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में लेकर किस करने लगा और उसकी कमर को सहलाने लगा. थोड़ी देर बाद वह भी कुछ सहज हो कर मेरा साथ देने लगी. अब मैंने पूरा लण्ड पूरी ताकत से अंदर दाल दिया और जोर से उसकी चूत को चोदने लगा.

अब उसे खूब मज़ा आ रहा था और वो जोर – जोर से चिल्लाने लगी, “फाड़ो मेरी चूत को वंश फ़क मी हार्ड आह्ह्ह उम्म्म उम्म्म फाड़ डालो मेरी चूत को आह.” अब मैं जोर – जोर से उसे चोदने लगा.

मेरा 8 इंच का लम्बा लण्ड उसकी चूत का भोसड़ा बनाने लगा था. फिर मैंने उसको डॉगी स्टाइल में किया और पीछे से उसकी चूत में लण्ड डाल दिया. तभी उसकी चूत से जोर – जोर से पानी निकलने लगा. यह देख मैं उसकी गांड में जोर – जोर से थप्पड़ मारने लगा.

अब मेरा भी पानी निकलने वाला था तो मैंने उससे पूछा कि कहां निकालूँ? तो उसने कहा चूत में ही भर दो अपने मोठे लण्ड का पानी. फिर मैं जल्दी – जल्दी झटके मार कर उसकी चूत में ही झड़ गया.

दोस्तों, इसके बाद मैंने उसे कई बार चोदा. लेकिन वो कहानी फिर कभी. ये मेरी पहली कहानी है. उम्मीद है आप सब को पसन्द आई होगी. लेकिन अगर कुछ गलती हो तो सुझाव जरूर दें. मेरी मेल आईडी – [email protected]

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *