दोस्ती में रेलम पेल भाग – 2

रीमा ने इतनी सी देर में ही प्रवीण और हिना की अन्तरंग बातें जान लीं और अपनी बातें हिना को बता दीं. रवि की तरह प्रवीण को भी चुदाई का पूरा शौक था. हिना बोली – मेरी चूत तो प्रवीण ने इतनी चौड़ी कर दी है कि अब मैं अपना मोबाइल उसमें बड़े आराम से रख सकती हूँ…

इस कहानी का पिछला भाग – दोस्ती में रेलम पेल भाग – 1

अभी तक अपने पढा कि रवि और रीमा कैसे मस्ती किया करते थे. अब जब रवि का दोस्त बहुत दिनों बाद रवि के पास आने वाला था तो रवि ने रीमा से बताया कि एक बार उसने कैसे प्रवीण की गांड़ मार ली थी. अब आगे-

ऐसे ही कब एक हफ्ता निकल गया, पता ही नहीं चला. प्रवीण और हिना आ गए थे. कंपनी ने उनके लिए दो – तीन दिन के लिए एक फाइव स्टार होटल में रूम बुक कर दिया था. उसके बाद तो उनका अपना फ्लैट तैयार हो जाना था.

रवि ने प्रवीण से कहा कि होटल में रुकने के बजाय वो उसके पास ही रुके. तो प्रवीण ने उसके गले लगते हुए कहा कि इन अमेरिकियों की कुछ आदतें होती हैं, जिनसे छेड़छाड़ ठीक नहीं है. और फिर उसे इस हफ्ते तो उसे बहुत काम रहेगा. एक बार फ्लैट में शिफ्ट हो जाए, फिर तो रोज मिलेंगे. हिना भी दोनों से गले मिली.

उससे पहले प्रवीण ने रीमा को गले लगाया और चूम लिया और बोला – रीमा, ये तो मेरा हक है, बुरा नहीं मानना. मैंने जिन्दगी में अगर किसी से पहला प्यार किया है तो वो रवि था. उसकी इन बातों से प्यार झलक रहा था.

तो रीमा ने पलट कर उसे होठों पे चूम लिया और कहा – ये रवि की तरफ से है.

फिर सब हंस पड़े. हिना और रीमा तो एक – दूसरे से ऐसे मिलीं जैसे बरसों से जानती हों. एअरपोर्ट से जाते समय रीमा ने हिना से कहा कि वो बैंक से लौटते समय हिना को होटल से ले लेगी और रवि भी अपना काम ख़त्म कर के सीधे उनके घर आ जाए, डिनर सब साथ में ही करेंगे.

शाम को रीमा ने हिना को 4 बजे फोन किया. हिना हवाई यात्रा की वजह से थकी हुई थी इसलिए अभी सो ही रही थी. रीमा के फोन करने से वह उठी. रीमा ने हिना को 5 बजे होटल से ले लिया. हिना ने शॉर्ट्स और टॉप डाला हुआ था और रीमा आज जीन्स और टॉप में थी.

रीमा, हिना को दिल्ली घुमाते – फिराते 7 बजे तक घर पहुंची. घर आकर उसने हिना से चाय, कॉफ़ी या ड्रिंक के लिए पूछा. तो हिना ने कहा कि वो बस चाय लेगी. रीमा ने फटाफट ड्रेस चेंज करके एक फ्रॉक डाल ली और चाय लेकर दोनों बैठ कर पीने लगीं. बातों – बातों में हिना ने उसे बताया कि उसकी फैमिली पूरी भारतीय है, लेकिन थोड़ी मॉडर्न हैं. उन्हें नॉन वेज, ड्रिंक्स से कोई परहेज नहीं है.

चाय के दौरान हिना ने अपने पर्स से सिगरेट निकाल कर जलाई और रीमा को ऑफर किया. रीमा भी रवि के साथ कभी – कभी पी लेती थी तो उसने भी एक सिगरेट ले ली. अब रीमा और हिना की खूब छन रही थी. रीमा और हिना दोनों ही किचन में काम करने के साथ ठहाके भी लगा रहीं थी.

रीमा ने इतनी सी देर में ही प्रवीण और हिना की अन्तरंग बातें जान लीं और अपनी बातें हिना को बता दीं. रवि की तरह प्रवीण को भी चुदाई का पूरा शौक था. हिना बोली – मेरी चूत तो प्रवीण ने इतनी चौड़ी कर दी है कि अब मैं अपना मोबाइल उसमें बड़े आराम से रख सकती हूँ.

यह सुनकर दोनों हंस पड़ी. तभी हिना ने रीमा से पूछा कि क्या रवि ने उसकी गांड मारी है. तो रीमा ने हंस कर बताया कि प्रवीण की गांड मारने से रवि इतना डर गया है कि अब वो गांड मारने को कहता ही नहीं. इस पर हिना ने बताया की प्रवीण तो उसकी गांड खूब मारता है. रीमा अंदर ही अंदर डर गयी कि अगर प्रवीण ने ये बात रवि को भी बता दिया तो कहीं रवि भी अब उसकी गांड न मारे.

हिना ने रीमा को बताया की अमेरिका में उनका 6-7 दोस्तों का एक ग्रुप है और उनके एक दोस्त के यहाँ फैमिली स्विमिंग पूल है. जहाँ वो 6-7 कपल रात को पार्टी के बाद नहाते हैं और उस ओर अँधेरा रखते हैं और लगभग सभी कपड़े उतार कर ही नहाते हैं, पर कोई कभी किसी और को टच नहीं करता. हालाँकि कैसा भी अँधेरा हो सबको एक दूसरे की चूत-मम्मे और लंड दिख ही जाते हैं, जिनको लेकर आपस में हंसी – मजाक हो जाता है.

हिना ने आगे बताया कि उनके इस ग्रुप में आपस में चूमा चाटी पर किसी को कोई एतराज नहीं है और इसमें कभी कोई किसी के मम्मे से छू भी जाए या दब भी जाएँ तो कोई इस बात का बुरा नहीं मानता. फिर हिना हंसते हुए बोली की प्रवीण के लंड को सब लोग हिन्दुस्तानी महाराज कहते हैं और उसके मम्मों को मिसाइल.

रीमा ने जब हिना को बताया कि वो और रवि अपना सन्डे कैसे एन्जॉय करते हैं और रवि तो उसे सन्डे को कपड़े पहनने का मौका ही नहीं देता और वो और रवि लॉन्ग ड्राइव में सेक्स करते हैं, तो हिना को बहुत आश्चर्य हुआ. वो बोली कि वहां तो पुलिस इतनी सतर्क है कि ऐसा मौका ही नहीं मिलता.

इस पर फिर हिना बोली – तू कितनी भाग्यशाली है. तेरी इन बातों को सुनकर तो मेरी तो चूत से पानी टपक रहा है.

रीमा बोली – सच्ची, कहाथ लगा कर देखूं क्या?

तो हिना ने हंसते हुए उसका हाथ अपनी शॉर्ट्स के अंदर कर दिया, पर रीमा ने हंसते हुए बाहर निकाल लिए. 8 बज गए थे. रवि का फोन आ गया कि वो तो 5 मिनट में आ रहा है पर प्रवीण अभी एक घंटे में आएगा. क्योंकि थके होने की वजह से वो दोपहर को 3-4 घंटे सो गया था.

रवि आते ही चाय पीकर नहाने घुस गया. तभी हिना ने आवाज देकर कहा कि अकेले ही नहा लोगे या रीमा को अंदर भेजूं. तो रवि हंस कर बोला – आज तो अकेले ही नहा लूँगा. अगर दिक्कत हुई तो बुला लूँगा.

रवि नहाकर तैयार होकर आ गया. आज वो पंजाबी जाट बन कर आया था. उसने शनील की लुंगी और कुरता डाला था. 9 बजे तक प्रवीण भी आ गया. रवि ने उससे पूछा कि क्या वो शावर लेगा? हालाँकि अमेरिकियों को आदत नहीं होती पर यहाँ की गर्मी और धूल से प्रवीण ने भी हाँ कह दी. तो रवि ने उसे भी एक कुरता और पायजामा दिया.

प्रवीण नहाकर फ्रेश होकर आ गया. रवि ने व्हिस्की खोल ली थी. चारों ने पार्टी शुरू की. तभी रीमा बोली प्रवीण तुम्हारी और रवि की सारी बदमाशियां अब हम दोनों को मालूम हैं. अब मुझे पता चल गया है कि रवि को बिगड़ने में तुम्हारा पूरा हाथ है.

प्रवीण बोला – मैंने इसे बिगाड़ा या इसने मुझे बिगाड़ा?

रीमा बोली – अगर तुम नहीं बिगड़ते तो ये सुधर जाता.

तभी हिना बोली – रवि तुमने तो प्रवीण का ऐसा खड़ा किया कि अब ये कभी बैठता ही नहीं.

प्रवीण भी अब कब तक चुप रहता. वो बोला – जितना इसने मुझे कॉलेज लाइफ में बिगाड़ा था, उससे ज्यादा तो इसने मुझे इस एक हफ्ते में बिगाड़ दिया. मैं रीमा के ऐसे लेता हूँ. रीमा ऐसे मेरा लंड चूसती है. वो खड़े होकर भी देती है. सच्ची इसकी ये बात सुन – सुन कर तो मेरा और खड़ा हो जाता था.

तभी हिना बोली – अच्छा, तो अब पता चला कि पिछले हफ्ते में तुम्हारी चुदाई इतनी रफ़्तार कैसे पकड़ गयी थी. मैं तो सोच रही थी कि शायद इंडिया में चुदाई पर बैन है. इसलिए तुम सारी कसर यहीं निकाल रहे हो.

रवि भी हंसते हुए बोला – रीमा को मैंने प्रवीण के लंड के बारे में इतना बता दिया कि शायद रीमा सपने में मुझसे नहीं प्रवीण से चुदती होगी.

पेग पर पेग बन रहे थे. नशे के साथ – साथ बेशर्मी भी बढ़ रही थी. अब रीमा बोली – चलो ड्रिंक ख़त्म करो, वर्ना डिनर रह जाएगा.

पेग बनाना अब बन्द हो गया और सब डिनर के लिए चल दिए. डिनर के बाद प्रवीण और हिना वापस चले गए. हिना को चिपटाते – चूमते हुए उसके मम्मे पर चिकोटी काट कर रीमा ने कहा – आज तुझे पता लगेगा की भारतीय महाराज भारत में कैसी चुदाई करते हैं.

इस कहानी का अगला भाग – दोस्ती में रेलम पेल भाग – 3

दोस्तों मेरी यह कहानी आप लोगों को कैसी लगी मुझे मेल करके जरूर बताएं. मेरी मेल आईडी है – [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *