इत्तेफाक से चुदी कुंवारी पड़ोसन लड़की

एक बार मेरे पड़ोस में रहने वाली एक लड़की ने मुझे पॉर्न देखते पकड़ लिया. मैं डर गया था. इसलिए मैं उसे मनाने गया कि किसी से बताना नहीं. लेकिन वहां तो कुछ और ही हो गया…

नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम राहुल हैं और आज मैं आपके सामने अपनी एक सच्ची कहानी प्रस्तुत करने जा रहा हूं. कहानी शुरू करने से पहले मैं कुछ बाते आपने बारे में बता देना चाहता हूं. मैं बिहार के एक गांव का रहने वाला हूं लेकिन अभी दिल्ली में रहता हूं. मेरी हाइट 5 फुट 10 इंच है और मेरा लन्ड 7 इंच लंबा, 3 इंच मोटा है. मैं थोड़ा हेल्दी हूं लेकिन रंग गोरा है. मेरी उम्र 21 साल है और मैं 12वीं में पढ़ता हूं. दोस्तों, अभी तक मेरी कोई गर्लफ्रेंड भी नहीं हैं.

अब मैं अपनी कहानी पर आता हूं. वैसे तो मैं काफी शांत स्वभाव वाला लड़का हूं पर हर इंसान की तरह मुझ में भी कुछ दोष हैं. एक दोष यह है कि मैं ज्यादातर समय मोबाइल में चैटिंग करता हूं या फिर पॉर्न वीडियो देखता हूं. पॉर्न देख कर फिर मुठ मारता हूं. मेरी इसी आदत की वजह से मुझे एक दिन अपनी पड़ोसन की चुदाई का मौका मिला.

हुआ यूं कि एक दिन मेरा एक दोस्त मेरे घर आया. उस दिन मेरे पास इंटरनेट नहीं था तो मैंने उसके मोबाइल में हॉटस्पॉट चालू किया और अपने मोबाइल में वाईफ़ाई चालू करके पॉर्न वीडियो देखने लगा. उस वीडियो में मैं इतना खो गया कि पता ही नहीं चला कि आस – पास क्या हो रहा है!

मैं वीडियो देख रहा था कि उसी समय अचानक से मेरी पड़ोस में रहने वाली एक लड़की आकर मेरे पीछे खड़ी हो गयी और वीडियो देखने लगी. इस बारे में मुझे तब पता चला जब मेरे दोस्त ने इशारे से मुझे बताया. यह जान कर मैं डर गया. लेकिन फिर भी मैंने हिम्मत करके पूछा कि आप यहां क्या कर रही हो? मेरे इस सवाल का उसने कोई जवाब नहीं दिया और मुड़ कर अपने घर चली गयी.

उसके बर्ताव को देख मुझे और मेरे दोस्त को डर लगने लगा था कि कहीं ये किसी को बता न दे. इसी बीच मेरा दोस्त भी अपने घर भाग गया. अब मैं अकेला बचा. मैंने सोचा कि अगर उसने किसी को बता दिया तो हमारी इज्जत की धज्जियां उड़ जाएंगी इसलिए मैंने उससे बात करने का निश्चय किया और उसके घर गया. इसके अलावा मुझे और कोई उपाय ही नहीं सूझ रहा था.

उस टाइम उसके घर पर उसके अलावा और कोई नहीं था. फिर मैंने उससे सवाल – जवाब करना शुरू कर दिया. मैंने कहा कि मैं आज के बाद ऐसा नहीं करूंगा पर आप किसी को बताना मत प्लीज!

इस पर वो बोली – ठीक हैं, मैं नहीं बताउंगी.

तब मैंने डरते हुए फिर उससे पूछा – वैसे आपने क्या देखा था?

वो बोली – वही जो तुम देख रहे थे.

मैंने कहा – वो तो मैं भी जानता हूं पर देखा क्या था आपने?

यह सुन कर वो थोड़ा गुस्सा करते हुए बोलीं – अब पूरा बोल के सुनाऊं क्या?

उनका रुख देख कर मैं डर गया और बोला – नहीं रहने दो बस आप किसी को बताना मत. इतना बोल के मैं अपने घर जाने लगा. तभी वो पीछे से बोली – तुमने वो वीडियो सेव कर रखी हैं क्या?

यह सुन कर मेरा डर कुछ कम हुआ मैंने कहा – हाँ, सेव तो कर रखी है.

यह सुन कर वो बोलीं – मुझे देखनी है.

मैंने कहा – ठीक है, दिखाता हूं.

इतना बोल कर मैं वो पॉर्न वीडियो चालू करके उसके पास बैठ गया और उसे दिखाने लगा. उसके साथ वीडियो देखते – देखते मेरे मन में उल्टे – सीधे ख्याल आने लगे और मैं सोचने लगा कि काश कुछ ऐसा हो जाए और मैं अपनी इस पड़ोसन को चोद सकूं. दोस्तों, मैं आपको बताना भूल गया था. वो बहुत ही सुंदर और मस्त फिगर वाली लड़की थी और उनकी उम्र 22 साल थी.

उसके साथ पॉर्न देख कर मुझसे कंन्ट्रोल नहीं हुआ और मैंने उसकी जांघों पर हाथ रख दिया. फिर जब उसने कुछ नहीं कहा तो मैं जांघ को सहलाने लगा. इतने पर भी जब उसने कोई विरोध नहीं किया तो मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैं अपने हाथ सरकाता हुआ उसकी चूत तक पहुंच गया. तभी उसने मेरा हाथ पकड़ लिया.

मैंने सोचा कि शायद इसका मन नही हैं तो मैंने अपना हाथ पीछे खींच लिया. यह देख वो बोली – अच्छा ठीक है कर लो पर किसी को बताना मत. यह सुनते ही मैं खुशी से उछल पड़ा और उसे चूमने लगा. वो भी मेरा साथ दे रही थी.

फिर जब मैंने उसकी टी शर्ट उतारने की कोशिश की तो वो बोली कि जाओ दरवाजा बंद कर आओ. इतना कह के वो बाथरूम चली गई. फिर मैं गया और दरवाजा बंद करके जब वापस आया तो उसे देख के चौंक गया. वो मेरे सामने पूरी नंगी खड़ी थी.

उसे ऐसे देख मैंने भी अपने कपड़े उतारे और उसे बेड पर लेटा कर चूमने लगा. थोड़ी देर चूमने के बाद मैंने उसके बूब्स को दबाना और चूसना शुरू किया. मेरे ऐसा करने से वो गर्म होने लगी और उसके मुंह से सिसकियां निकलने लगीं. मैं तेजी से उसके बूब्स को मसल रहा था इसलिए उसे दर्द होने लगा और वह रुकने के लिए बोलने लगी. लेकिन मैं नहीं रुका और उससे कहा कि चिंता मत करो, थोड़ी देर में दर्द खत्म हो जाएगा.

फिर मैं रुके बिना लगातार उसके बूब्स को चूसता और दबाता रहा तो वो बोली कि अच्छा करना ही है तो कम से कम धीरे – धीरे तो करो. उसके बार – बार बोलने पर मैं रुक गया और फिर उसे अपना लन्ड चूसने के लिए कहा पर वो मना करने लगी. मैंने बहुत कोशिश की पर वो नहीं मानी, तब मैं नीचे झुक कर उसकी चूत चाटने लगा. अभी वो खड़ी ही थी. मुझे ऐसा करते देख बोली – ये क्या कर रहे हो? मैंने कहा – रुक जा अब तुझे मजा आएगा. और फिर इतना कह के मैं उसकी चूत चाटने में मशगूल हो गया.

अब वो आराम से चूत चुसाई के मजे ले रही थी और मुंह से लगातार कामोत्तेजक आवाजें निकाल रही थी. फिर थोड़ी देर में वो झड़ गयी. इसके बाद मैंने उसकी चूत को एक कपड़े से साफ़ किया और पूछा कि मजा आया या नहीं? तो वो बोली कि बहुत मजा आया.

तब मैंने कहा कि अब मेरे लन्ड को भी चूस लो तो मुझे भी मजा आएगा. इस पर वो बोली कि ठीक हैं कोशिश करती हूं. फिर इतना कह के झुक कर वो लन्ड चूसने लगी. वो बहुत अच्छे से नहीं चूस पा रही थी पर मुझे मजा आ रहा था. फिर थोड़ी देर बाद मैं भी झड़ गया.

इसके बाद हम दोनों एक – दूसरे से चिपक कर चुम्बन करने लगे. फिर थोड़ी देर बाद मेरा लन्ड दोबारा खड़ा होने लगा तो मैंने उसे लिटा कर उसकी टांगों को फैला दिया और उसके ऊपर लेट कर उसकी चूत पर लन्ड को रगड़ने लगा. इससे वो और ज्यादा उत्तेजित हो गई और कहने लगी कि अब जल्दी से मेरी चूत में अपना लन्ड डाल दो, बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

इस पर मैंने उससे पूछा कि पहले कभी चुदाई की है या नहीं? तो वो बोली कि नहीं, क्यों? इस पर मैं बोला – कुछ नहीं रुको. इतना बोल के मैं कोई बेकार कपड़ा ढूंढने लगा पर जब मुझे नहीं मिला तो मैं एक तोलिया ले आया और उसे उसकी गांड के नीचे बिछा दिया.

इतना करने के बाद फिर मैं उसकी चूत में लन्ड डालने लगा. उसे दर्द होने लगा और वो मुझे रुको – रुको कह कर रुकने के लिए बोलने लगी पर मैंने एक धक्का देकर उसकी चूत में अपना आधा लन्ड घुसेड़ दिया. उसे तेज दर्द हुआ और उसके मुंह से एक चीख निकली. अब वो पूरी ताकत से मुझे अपने ऊपर से हटाने की कोशिश करने लगी पर मैं नहीं हटा बल्कि थोड़ा सा रुक कर उसे चुम्बन करने लगा.

फिर थोड़ी देर बाद जब उसका दर्द कम हुआ तो मैंने एक झटका और दिया. अब मेरा पूरा लन्ड उसकी चूत के अंदर था. उसे दर्द हो रहा था. इसलिए मैंने धीरे – धीरे उसकी चूत मारने लगा. कुछ देर बाद लन्ड उसकी चूत में सेट हो गया तो उसका दर्द भी कम हो गया. फिर तो वो अपनी गांड उठा – उठा कर लन्ड अंदर लेने लगी.

थोड़ी देर बाद जब हमने पोज बदली तो मैंने देखा कि उसकी चूत से खून निकला था, जिससे तौलिया पर धब्बे पड़ गए थे पर हमने उस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया और चुदाई करने में मगन हो गए.

थोड़ी देर बाद उसने मुझे कस के जकड़ लिया और ‘ओह्ह आह आह’ करते हुए झड़ गयी. उसके झड़ने के थोड़ी देर बाद मैं भी उसकी चूत में ही झड़ गया. और उसके ऊपर लेट कर उसे किस करने लगा. फिर थोड़ी देर बाद मैं अपने घर वापस आ गया. अब जब भी हमें मौका मिलता है हम चुदाई जरूर करते हैं.

दोस्तों, आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी? मेल करके जरूर बताना. मेरी मेल आईडी – [email protected]

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *