मैं, मेरा दोस्त और मेरी गर्लफ्रेंड के साथ हसीन रात

मेरे दोस्त ने भी जरा सी भी आवाज नहीं की. अब वे दोनों एक – दूसरे को किस करने लगे. ठीक उसी तरह जैसे हम लोग करते थे. अब मैं तुरंत ही वहां पर आ गया. क्योंकि अगर अब तक मैं न आता तो मेरा दोस्त मेरी गर्लफ्रेंड को चोद देता…

दोस्तों, आज मैं आप लोगों को जो स्टोरी बताने जा रहा हूँ. ये हमारी सच्ची स्टोरी है. मेरा नाम विजय है और मैं नागपुर में रहता हूँ और मेरी गर्लफ्रेंड का नाम सुचिता है.

दोस्तों, मैं अभी कॉलेज में पढ़ाई करता हूँ और मेरी गर्लफ्रेंड सुचिता गांव में रहती है. हम दोनों बहुत दिनों से रिलेशन में हैं. सुचिता मेरे घर के पास की ही है और मैं अक्सर रात में उससे मिलने होस्टल से उसके पास घर चला जाता था.

घर जाने के पहले ही मैं सुचिता को फ़ोन कर देता था कि मैं आ रहा हूँ तो वो मुझसे मिलने के लिए पहले से ही तैयार रहती थी. रात को सभी लोगों के सो जाने के बाद सुचिता को मैं उसके पास के ही एक बगीचे में मिलने के लिए बुलाता था. उस बगीचे में रात के वक्त कोई आता भी नहीं था. ऐसा ही हम लोगों ने कई बार किया था.

फिर जब सुचिता वहां आ जाती थी तो हम दोनों अपने पूरे कपड़े निकाल कर पूरे बगीचे का मज़ा लेते और खूब चुदाई करते थे. कई बार मैं मज़ाक में ही उससे बोल देता था कि मैं अपने फ्रेंड के साथ आ रहा हूँ तो तुम्हें कोई दिक्कत तो नहीं होगी? इस पर सुचिता कहती थी, “कोई बात नहीं आ जाओ”. क्योंकि उसे भी पता था कि मैं मज़ाक कर रहा हूँ.

लेकिन एक दिन जब मैं हॉस्टल से उससे मिलने जाने के लिए निकला तो मेरे एक दोस्त ने मुझसे पूछ लिया कि कहां जा रहे हो? तो मैंने उसे बता दिया कि मैं सुचिता से मिलने जा रहा हूँ. वैसे भी मेरे सभी दोस्तों को मालूम था कि रात में मैं अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने जाता हूँ.

यह सुन कर वो बोला, “मैं भी चलता हूँ. मुझे उधर ही में कुछ काम है, तो मैं वो उधर काम कर लूंगा और तुम अपनी गर्लफ्रेंड से मिल लेना”. तो मैंने कहा, “ठीक है कोई बात नहीं”.

फिर हम दोनों हॉस्टल से चल दिए. हॉस्टल से सुचिता के घर तक आने में करीब 2 घंटे का समय लगता था. बस स्टॉप पर आने के बाद मेरे दोस्त ने जिससे उसको काम था उसको फ़ोन किया तो उसने बोला कि वो अभी बाहर है इसलिए तुम 4 बजे रात तक आ जाना तब तक वह भी आ जाएगा.

तो मेरे दोस्त ने मुझसे कहा कि अब रात में मैं यहाँ क्या करूँगा? फिर कुछ देर सोचने के बाद उसने कहा, “चलो मैं भी तुम्हारे साथ ही चलता हूँ, तुम सुचिता से मिल लेना और मैं बगीचे के इस तरफ बैठा रह कर तुम्हारा इंतजार कर लूंगा”.

तो मैंने कहा, “ठीक है”. क्योकि बाहर काफी अँधेरा था और कुछ दिखता भी नहीं था तो मुझे कोई प्रॉब्लम हो ही नहीं सकती थी. जब हम लोग बगीचे के पास आये तो मैंने सुचिता को कॉल लगाया ताकि मैं उसे बता दूं कि इस बार मेरा दोस्त भी साथ में है तो थोड़ा आराम में आये.

वैसे भी मैं आने से पहले उसको कॉल करता था ताकि वह बगीचे के पास आ जाए और फिर वो तुरंत ही आ जाती थी. लेकिन इस बार जब मैंने उसको कॉल किया तो उसका फ़ोन ऑफ था. मुझे मालूम था कि आज कल गांव में लाइट नहीं आ रही है इसी से उसका फ़ोन ऑफ आ रहा है.

दोस्तों, सुचिता की आदत ये थी कि वो बगीचे में आते ही अपने सारे कपड़े निकाल देती थी. तो उस बार मैंने सोचा कि क्यों ना आज थोड़ा मज़ा ले ही लेते हैं देखते हैं सुचिता क्या बोलती है! तो मैंने अपने दोस्त से बोला देखो सुचिता मुझसे मिलने यहीं आती है और आज मेरी जगह तुम यहां पर रहो क्योंकि काफी अंधेरा है और मुझे लगता है वो पहचान नहीं पायेगी. बस तुम कुछ बोलना नहीं.

तो मेरे दोस्त ने कहा ठीक है. अब मेरे मुंह से सुन कर वो मन ही मन बहुत खुश हो गया. जैसे उसकी कोई लॉटरी लग गई हो. करीब 30 मिनट बाद हमें लगा कि जैसे कोई आ रहा है. तो मैं अपने दोस्त से बोला कि वो आ रही है. क्योंकि इस टाइम उसके अलावा इस जगह कोई और आ ही नहीं सकता था.

फिर इतना बोल कर मैं दूसरे पेड़ के पास जाकर छिप गया. जैसे ही सुचिता बगीचे में आई और उसने मेरे दोस्त को देखा तो अंधेरे में वह उसको पहचान न पाई. सुचिता को लगा कि वह मैं हूँ. अब उसने तुरंत ही अपने कपड़े निकाले और आ कर मेरे दोस्त से चिपक गई.

मेरे दोस्त ने भी जरा सी भी आवाज नहीं की. अब वे दोनों एक – दूसरे को किस करने लगे. ठीक उसी तरह जैसे हम लोग करते थे. अब मैं तुरंत ही वहां पर आ गया. क्योंकि अगर अब तक मैं न आता तो मेरा दोस्त मेरी गर्लफ्रेंड को चोद देता.

मुझे सामने खड़ा देखते ही मेरी गर्लफ्रेंड शॉक्ड हो गई और मुझसे बोली, “ये कौन है?” जब मैंने उसे बताया कि ये मेरा दोस्त है तो वो बोली, “तुमने मुझे बताया नहीं कि तुम अपने फ्रेंड के साथ आ रहे”. तो मैंने कहा, “मैंने तुमको कॉल किया था लेकिन तुम्हारा फोन ऑफ आ रहा था. इसी वजह से मैं तुम्हें नहीं बता पाया”.

तो मेरी गर्लफ्रेंड ने कहा कि मैं घर जा रही हूँ. मेरा मन नहीं है. तो मेरे दोस्त ने कहा, “सॉरी, जो हुआ वह सब मज़ाक में हुआ है, मैं उस साइड चला जाता हूँ इधर आप लोग इंजॉय करिये, बाद में मिलते हैं”.

इतना बोल कर मेरा दोस्त दूसरी तरफ चला गया. उसके जाने के बाद मैंने सुचिता को समझाया और काफी मिन्नतों के बाद उसको मना पाया. उसके बाद हम दोनों ने अपने कपड़े निकाल दिए. उसको नंगा देख कर मेरा लण्ड बहुत टाइट हो गया था.

फिर जैसे ही सुचिता ने मेरे लण्ड को पकड़ कर अपनी चूत में डाला और मैंने कुछ 4 ही धक्के लगाए थे कि उसने कहा कि मेरा तो हो गया. मै समझ गया था कि सुचिता बहुत गरम है. उसके बाद उसने मेरा लण्ड अपने मुँह में ले लिया और चाटने लगी.

तभी मैं उससे पूछ बैठा कि मेरे दोस्त के साथ किस करके कैसा लगा? तो सुचिता ने कहा कि अच्छा था. तो मैंने कहा, “फिर करवाया क्यों नहीं?” तो सुचिता ने कहा, “तुम आये नहीं होते तो तुम्हारा दोस्त ही मुझे चोद देता और मुझे लगता की वो तुम हो”.

तो मैंने कहा, “मेरा ये दोस्त अच्छा है, इसकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है और तुम चाहो तो चुदवा सकती हो”. तो वो बोली, “नहीं चुदवा सकती,”. तो मैंने कहा, “कोई बात नहीं”.

फिर उसके बाद मैंने उसको पोर्न वीडियो दिखाया. उस वीडियो में एक लड़की 2 लड़कों से चुदवा रही थी. वीडियो देख कर सुचिता एक दम से गरम हो गई और उसने कहा, “ठीक है, तुम चाहो तो अपने दोस्त को भी बुला सकते हो”. तो मैंने उससे कहा कि वो उस साइड है तुम खुद ही जाकर बुला लो.

फिर जब हम दोनों वहां गए तो मेरा दोस्त अपने लण्ड को हाथ में लेकर हिला रहा था. ये देख कर मेरी गर्लफ्रेंड उससे बोली, “ये क्या कर रहे हो?” तो वो अपने लण्ड को छुपाने लगा. फिर मेरी गर्लफ्रेंड ने उसके लण्ड को पकड़ के अपने मुँह में लिया और चाटना शुरू कर दिया.

फिर मैंने उसको खड़ा कर दिया और सुचिता को वहीं जमीन पर लिटाया और अपने लण्ड को उसकी चूत में डाल दिया. दूसरी तरफ मेरा दोस्त ने उसके मुँह में अपना लण्ड डाल कर हिलने लगा. करीब आधे घंटे की जोरदार चुदाई के बाद मैंने अपना लण्ड उसकी मुँह में दे दिया और मेरे दोस्त ने अपना लन्ड उसकी चूत में डाल कर उसे चोदने लगा.

ऐसे ही हम लोग चुदाई करते रहे. 4 कब बज गया पता ही नहीं चला! 4 बजे मेरे दोस्त को उसके दोस्त का कॉल आया कि आ जा मिल के बात कर लेते हैं. तो हम लोग जाने के लिए तैयार हो गए गए. आज मेरी गर्लफ्रेंड बहुत खुश थी. उसे ऐसी ही चुदाई चाहिये थी.

उसके बाद हम लोगों ने मिल कर कई बार उसको चोदा और अब तो हमें नागपुर से भी लड़कियों को चोदने के ऑफर मिलने लगे हैं.

अगली बार मैं जल्द ही चुदाई की एक और नई कहानी लेकर जल्द ही हाजिर होऊंगा. तब तक आप मुझे मेरी इस कहानी पर अपनी प्रतिक्रिया मेल करते रहिए. मेरी मेल आईडी – [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *