मसाज का वीडियो देख भाभी हुई चुदासी

मेरे बगल में एक नई भाभी आई थी. धीरे – धीरे हमारे बीच बातचीत होने लगी. एक दिन एक मसाज का वीडियो देख कर उनको चुदास है. जानें फिर कैसे मैंने उन्हें उनके घर में चोदा…

सभी भाभियों को मेरा प्यार और उनकी चूतों के लिए प्यार भरा किस. बात कुछ समय पहले की है. कॉलेज की पढ़ाई खत्म होने के बाद मैं घर पर ही रहता था और घर के काम में हाथ बटाता था.

कुछ समय बाद मेरे घर के पास वाले घर को एक व्यक्ति ने खरीद लिया. उसके परिवार में वह, उसकी पत्नी और एक छोटा बच्चा था. बातचीत में पता चला कि उनकी शादी को 4 साल हो चुके हैं और उनका बच्चा अभी 1 साल का ही है.

यह जान कर मैंने अनुमान लगाया कि अगर बच्चा एक साल का है तो मां का दूध जरूर पीता होगा. फिर मैंने भाभी को देखना शुरू कर दिया. दोस्तों, उनका फिगर 34 32 34 का था और उनकी उम्र 29 साल थी. उनके पति एक प्राइवेट कम्पनी में काम करते हैं और उनका ज्यादातर काम सिटी से बाहर का ही होता था.

धीरे-धीरे उनके पति से मेरी पहचान हो गई. वे गली में मेरे अलावा किसी और से ज्यादा बात नहीं करते थे. ऐसे ही उन्हें हमारे बगल में रहते हुए 5 महीने हो गए. लेकिन इतना समय होने के बावजूद भी भाभी से मेरी बातचीत नहीं होती थी और न ही मैं कभी उनके घर गया था.

एक दिन मैं भैया से बात कर रहा था तो उन्होंने बताया कि वे कुछ दिनों के लिए बाहर जा रहे हैं. फिर उन्होंने मुझसे कहा कि इस दौरान मैं उनकी फैमिली का थोड़ा ध्यान रखूं. फिर वे मुझे अपने घर ले गए और भाभी से मिलवाया.

उस दिन भाभी ने हल्के रंग का सूट पहन रखा था. उस सूट का गला बड़ा था और उसमें से उनके बूब्स की गहराइयां दिख रही थीं. तब मैंने उनको थोड़ा गौर से देखा. तभी भाभी पानी लेकर आईं और बोलीं – लीजिए पानी.

तब मैंने पानी पिया और इसके बाद थोड़ी देर तक इधर-उधर की बातें होने लगी. फिर भैया और भाभी को मैं अपने घर ले गया और अपने घर वालों से मिलवाया. दोस्तों, मेरे घर में मेरे अलावा मेरी मां ही रहती है. मेरे पापा बाहर जॉब करते हैं. भाभी और मां के बीच काफी सारी बातें हुईं और वे दोस्त बन गईं. फिर तो भाभी अक्सर मेरे घर आने लगीं.

कुछ दिन बाद भैया चले गए. अब भाभी मुझसे भी खूब बातें करने लगी थीं. मैं भी उनके घर जाकर उनके बच्चे के साथ खेलता था और वो भी समय मिलने पर अपने बच्चे को लेकर मेरे घर आ जाती थीं और मां से बात करती थीं.

कभी – कभी वो मेरे घर पर ही अपने बच्चे को अपना दूध भी पिलाने लगती थी. मां के होने की वजह से उस टाइम मैं वहां से हट जाता था.

एक दिन की बात है. मैं अपने लैपटॉप पर मसाज के वीडियो देख कर सीख रहा था कि कैसे की जाती है. मुझे पता ही नहीं चला कि कब भाभी वहां आ गई और मेरे पीछे खड़े होकर वीडियो देखने लगीं.

दोस्तों, उस वीडियो में एक लड़का एक लड़की की मसाज कर रहा था. ये नॉर्मल मसाज नहीं थी, लड़की पूरी नंगी थी और लड़का उसके दूध पर मसाज कर रहा था. भाभी बिना कुछ बोले पीछे से सब देख रही थीं. तभी अचानक मुझे चूड़ी खनकने की आवाज सुनाई दी. मैंने पलट कर देखा तो भाभी वहां से भाग गईं. भाभी को देख कर मैं डर गया था कि कहीं वो मां से न बोल दें.

फिर मैंने चुपचाप अपना लैपटॉप बन्द कर दिया. इसके बाद मैं मां के साथ घर का काम करवाने लगा. मैंने देखा कि भाभी भी अपने रूम में बैठी थीं और मुझे देख कर हल्के – हल्के हंस रही थीं और साथ में मुझे आंखें भी दिखा रही थीं. खैर, उस समय कुछ नहीं हुआ.

फिर शाम को भाभी को मार्केट जाना था तो उन्होंने मुझसे कहा. मैंने बाइक पर उन्हें बिठाया और चल दिया. बाइक पर बैठ कर उन्होंने अपना एक हाथ मेरे कंधे पर रख दिया था. मार्केट से वापस आते हमें रात छप गई थी. फिर वो अपने घर चली गईं.

सुबह जब मैं जगा तो मां ने बताया कि भाभी किसी काम से मुझे बुलाने आई थीं. फिर मैं उठ कर उनके घर गया. उस टाइम 12 बज रहे थे. फिर मैंने उनको आवाज दी और बिना उनके जवाब का इंतजार किये अंदर चला गया. वो अपने बच्चे को दूध पिला रही थीं. मैंने उनको देखा और देखता ही रह गया.

दोस्तों, भाभी ऊपर से पूरी नंगी थीं. उन्होंने अपनी ब्रा भी उतार रखी थी. मुझे देख कर उन्होंने अपने हाथों से दूध को ढक लिया और कहा कि टीवी वाले रूम में बैठो मैं आती हूँ. थोड़ी देर बाद भाभी आईं और बैठ कर बात करने लगीं.

उन्होंने मुझसे कहा कि मुझे कमर और कंधे में बहुत दर्द हो रहा है. यह सुन कर मैं समझ गया कि इनको मसाज करवानी है. फिर मैंने देर न करते हुए कहा कि भाभी आपकी मसाज कर दूं क्या? तो उन्होंने कहा – हां कर दे आराम मिल जाएगा.

फिर भाभी अपने रूम में गईं और गाउन पहन कर आईं और लेट गईं. इसके बाद मैंने तेल लिया और अपने हाथों में लगा कर भाभी से कहा कि गाउन उतार दो वरना मैं मसाज कैसे करूँगा. फिर भाभी ने उतार दिया और मसाज करवाने लगीं.

थोड़ी देर बाद भाभी बोलीं – तेरे हाथों में बड़ी जान है, बहुत अच्छी मसाज कर रहा है लगता है वीडियो से सब सीख गया. मैं कुछ नहीं बोला और चुपचाप मसाज करता रहा. फिर भाभी बोलीं कि तेरे को ये सब देखना पसंद है? तो मैंने कहा कि हां. फिर थोड़ी देर बाद मैंने कहा – लेकिन आप मां को मत बताना.

इस पर उन्होंने कहा – नहीं बताऊंगी पर तुझे मेरा एक काम करना होगा. मैंने कहा – बताइए तो मैं आपके लिये सब कुछ करूँगा. यह सुन कर वो खुश हो गईं और बोलीं – मेरे दूधों की मसाज कर बड़ा दर्द हो रहा है. यह बात सुन कर मैं समझ गया कि इसको क्या चाहिए. खैर, मैंने हां कर दी.

फिर मैं उनके दूधों पर हल्के हाथों से मसाज देने लगा. अब वो आंखें बन्द करके लेटी थी और फिर मैं उनके निप्पल्स को दो उंगलियों के बीच रख कर दबाने लगा. इससे उनके मुंह से एक सिसकारी निकल गई और उन्होंने कहा कि आराम से करो नहीं तो मेरा दूध निकल आएगा. मैंने कहा कि ठीक है आराम से ही करता हूँ.

लेकिन थोड़ी देर बाद मैं फिर वैसे ही करने लगा. इससे उनका दूध निकलने लगा. यह देख वो बोली – मेरा दूध निकलने लगा और मेरा बच्चा सो रहा है अब मैं क्या करूँ? इस पर मैंने कहा कि इस पर तो तेल लगा है इसलिए बोतल में भी नहीं भर सकते हैं. तो भाभी बोलीं – हां, फिर अब क्या करें? मुझे दर्द हो रहा है, ये बता तू पियेगा. यह सुन कर मेरे मुंह से भी हां निकल गया.

फिर मैं भाभी के दूध को मुंह में लेकर चूसने लगा. अब वो आह आह उह उह की आवाज करने लगीं. अब वो धीरे – धीरे गर्म हो रही थीं. मैं उनका दूध पीता जा रहा था और इधर मेरा लिंग भी खड़ा होता जा रहा था. मेरा लिंग खड़ा होकर उनके पैरों से टकरा रहा था. यह भाभी को पता चल गया.

फिर उन्होंने अपना हाथ मेरे लिंग पर लगा दिया. अब मुझसे सहन नहीं हुआ तो मैंने अपने लिंग को चड्डी से बाहर निकाल लिया और उनके हाथ में पकड़ा दिया. जिसे वो सहलाने लगीं.

वो अपनी आंख बंद किये हुए थीं. थोड़ी देर बाद बोलीं – मेरी चूत की भी प्यास बुझा दो मेरी जान, तुम दूध तो बहुत अच्छे से चूसते हो लेकिन क्या बाकी के काम भी अच्छे से कर पाओगे? फिर मैंने देर न करते हुए उनकी पैंटी हटा दी और शेव की हुई चूत पर अपना मुंह लगा के चूसने लगा.

उनकी गुलाबी चूत चूसने में मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. मैं उनकी चूत चूसे जा रहा था और वो जोर – जोर से मेरे लन्ड को हिला रही थीं. अब मुझसे रहा नहीं गया और 69 की पोजीशन में आ गया. फिर मैंने काफी देर तक उनको अपना लन्ड चुसाया और उनकी चूत चाटी. कुछ देर बाद वो मेरे मुंह में ही झड़ गईं और मैं उनका सारा माल पी गया.

अब भाभी बोलीं – आज तुमने मेरी आज बुझा दी. तुम्हारे भैया कभी मेरी चूत नहीं चाटते. तुमने मुझे बहुत सुख दिया. फिर मैंने देर न करते हुए उनकी टांगें खोल कर आने कंधों पर रखी और लन्ड सेट करके धक्का मार दिया और चुदाई शुरू कर दी. साथ ही मैं उनके होंठों पर किस भी करता जा रहा था.

दोस्तों, मैं किस करते हुए धक्के मार रहा था और वो ‘आह आह और चोदो मुझे और चोदो’ कह रही थीं. करीब 15 मिनट की धकापेल चुदाई के बाद मैंने भाभी से कहा कि मैं आने वाला हूँ तो उन्होंने कहा कोई बात नहीं अंदर ही कर दो. लेकिन मैंने कहा कि मैं मुंह में ही दूंगा. फिर लन्ड निकल कर उनके मुंह में लगाते ही मैं झड़ गया. भाभी मेरा सारा माल पी गई.

इसके बाद फिर से भाभी की चूत चाटने लगा और उनको भी खाली कर दिया. भाभी चिल्ला कर मेरे मुंह मेंही झड़ गईं. मैं उनका पूरा माल पी गया. इसके बाद मैंने कपड़े पहन कर भाभी को किस किया और घर चला आया.

आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी मुझे मेल करके जरूर बताएं. मेरी मेल आईडी – [email protected]

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *