रॉन्ग नम्बर ने दिलाई चूत

एक बार मैं अपनी मुंह बोली बहन को व्हाट्सऐप पर एक मैसेज भेज रहा था लेकिन गलती से वो किसी दूसरे के पास चला गया. वो एक लड़की का नम्बर था. फिर किस तरह मुझे उसकी चूत मिली ये आपको इस कहानी में जानने को मिलेगा…

हेलो दोस्तों, मेरा नाम रवि है और मैं पंजाब का रहने वाला हूं. ये जो कहानी मैं आप सब के सामने प्रस्तुत करने जा रहा हूं वो मेरे साथ घटी सच्ची घटना है. उम्मीद करता हूं आप लोगों को पसंद आएगी।

ज्यादा टाइम न लेते हुए मैं सीधा अपनी कहानी पर आता हूं. बात उस समय की है जब मैं यूनिवर्सिटी में ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहा था. एक दिन शाम को मुझे अपनी मुंह बोली बहन को एक व्हाट्सऐप मैसेज करना था लेकिन नम्बर गलत होने से वो मैसेज किसी दूसरे के पास चला गया.

इस पर मैंने ध्यान नहीं दिया था. मुझे लगा कि मैसेज मेरी बहन के पास चला गया. कुछ देर बाद उसका रिप्लाई आया और उसने पूछा कि कौन? इस पर मैंने कहा कि मैं रवि पहचाना नहीं क्या? उसने कहा – नहीं, मैं तुम्हें नहीं जानती. तब मैंने दोनों नम्बर मिलाए और पाया कि मैसेज किसी दूसरे के पास चला गया है.

इस पर मैंने उसे सॉरी बोला और बताया कि मैं अपनी बहन के पास मैसेज भेज रहा था लेकिन गलती से आपके पास चला गया. इस पर उससे कहा कोई बात नहीं, होता है कभी – कभी. उसके मैसेज टेस्ट की भाषा को देख कर मैं समझ गया कि वो लड़की है. क्योंकि वह स्त्रीलिंग वाले शब्दों का इस्तेमाल कर रही थी.

इस तरह धीरे – धीरे हम दोनों की बात होने लगी. मुझे ऐसा लग रहा था कि वो भी मुझ में इंट्रेस्ट ले रही है. उस टाइम मेरी कोई गर्लफ्रेंड थी नहीं और मैं भी बोर हो रहा था. इसलिए मैं उससे बात करने लगा. इस तरह बात करते – करते हमारी अच्छी दोस्ती हो गई और फिर हमने व्हाट्सऐप पर करीब 1 घण्टे तक बात की.

अब क्या था. उस दिन के बाद हम दोनों हर रोज़ व्हाट्सऐप पर चैटिंग करने लगे. एक रात हम दोनों व्हाट्सऐप पर चैटिंग कर रहे थे. मैं अपने घर में और वो अपने घर में थी. इस दौरान हम दोनों टीवी पर एक ही चैनल देख रहे थे. जिसमें एक मूवी चल रही थी. तभी सुहागरात का सीन आया. उसे देख के मैं गर्म हो रहा था. तभी मैंने अगला मैसेज भेज कर उससे कह दिया कि देखो मूवी में क्या चल रहा है, यहां तो सब एक दम ओपन ही हो रहा है. मेरी बात सुन कर उसने हंसने का इमोजी भेज दिया.

यह देख मैं समझ गया कि आग उधर भी लगी है. फिर मैंने हिम्मत करके उससे कहा कि तुमको ये सब कैसा लगता है? इस पर उसने कहा कुछ नहीं बस एक बार फिर से हंसने वाली इमोजी भेज दिया. दोस्तों, अब उसने डीपी पर अपनी फ़ोटो लगा ली थी. फिर मैंने उसकी डीपी देखी और कहा कि तुम्हारा फिगर तो बड़ा मस्त लग रहा है, क्या साइज है? इस पर उसने झट से रिप्लाई कर दिया कि 34 28 36. यह देख के मैं खुश हो गया.

फिर मैंने उससे पूछा कि इन नम्बर्स का मतलब क्या होता है? हालांकि मैं जानता था लेकिन उसके मुंह से सुनना चाहता था. मेरे सवाल के जवाब में उसने कहा कि 34 बूब्स, 28 कमर और 36 हिप्स. उसने एक दम खुल के बता दिया. यह सुन कर मैं बहुत खुश हुआ. मैं समझ गया कि ये बड़ी आसानी से मुझे अपनी चूत दे देगी.

फिर मैंने एक कदम और आगे बढ़ाते हुए कहा कि तुम्हारे बूब्स 34 के हो ही नहीं सकते. लेकिन अगर तुम कह रही हो तो प्रूव करो. उसने कहा कैसे? तब मैंने उससे कहा कि अपने बूब्स की फ़ोटो भेजो तो मैं देखूं कि हैं 34 के या नहीं.

दोस्तों, आप भरोसा नहीं करेंगे, मेरे कहने के 5 मिनट के अंदर ही उसने अपने बूब्स की फ़ोटो भेज दी. उसके बूब्स सच में 34 के साइज के थे. उनकी फ़ोटो देख कर मेरा लन्ड खड़ा हो गया था.

अब मैं उसकी चूत और बूब्स का इमेजिन करने लगा. मैं सोच रहा था कि वो मेरे सामने नंगी लेटी है और उसकी चूत से पानी निकल रहा है. और मैं उसकी चूत में लन्ड डालने ही वाला हूं! फिर जब मैं अपने सपनों की दुनिया से भर आया तो अपने खड़े लन्ड की फ़ोटो खींच कर उसे भेज दिया.

मेरा लम्बा – मोटा लन्ड देख कर वो गर्म हो गई. और स्माइल वाला इमोजी भेज दिया. तब मैंने उसे ऑनलाइन वीडियो कॉल करने को कहा तो वह तैयार हो गई. मैंने उसे वीडियो कॉल किया. वह बहुत खूबसूरत थी. उसके नैन – नख्श बहुत कटीले थे. थोड़ी देर इधर – उधर की बात करने के बाद मैंने उसे नंगी होने के लिए कहा तो उसने मेरे सामने ही अपने कपड़े उतार दिए.

इसके बाद मैंने भी अपने कपड़े उतार दिए. तभी मेरी नज़र उसकी चिकनी चूत पर पड़ी. दोस्तों, क्या बताऊं! उसकी चूत एक दम गुलाबी थी और उसमें से काम रस टपक रहा था.

उसकी चूत देख कर मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ और मैंने मोबाइल का कैमरा अपने लन्ड की ओर कर दिया और उसे रगड़ने लगा. मुझे लन्ड रगड़ते देख वह भी अपनी चूत को मसलने लगी. थोड़ी देर बाद हम दोनों झड़ गए और शांत हो गए. लेकिन हमारे अंदर की आग अभी ठंडी नहीं हुई थी. फिर हमने मिलने का प्लान बनाया.

दोस्तों, वह मेरे ही शहर की थी. तो हमने अगले दिन एक होटल में मिलने का प्लान बनाया. उस होटल में हम पूरी तरह सुरक्षित थे. यह बात वह भी जानती थी. मैंने उसी दिन अगले दिन के लिए रूम बुक कर लिया.

फिर अगले दिन वह तय समय पर मुझे वहीं होटल के पास मिल गई और हम रूम में चले गए. रूम में जाते ही हमने दरवाजा बंद किया और फिर एक – दूसरे से लिपट कर किस करने लगे. वह भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. इसी बीच मैंने उसकी गांड पर हाथ रख दिया और चूतड़ों को दबाने लगा.

अब वह जोर – जोर से सिसकियां लेने लगी थी. उसकी मादक सिसकियों को सुन कर मैं समझ गया कि वो पूरी तरह गर्म हो चुकी है. फिर मैं अपने हाथ ऊपर ले गया और ब्लाउज और ब्रा का हुक खोल कर उसके बूब्स को हाथों में लेकर दबाने लगा. साथ में एक बूब्स को चूस भी रहा था. अब वह और जोर – जोर से आहें भरने लगी थी.

करीब 10 मिनट तक उसके बूब्स मसलने और चूसने के बाद मैंने उसे बेड पर लिटाया और उसके सारे कपड़े उतार दिए. नीचे उसने पिंक कलर की पैंटी पहन रखी थी. मैंने उसे भी उतार दिया.

फिर मैंने उसकी चूत पर हाथ रख दिया. मैंने महसूस किया कि उसकी चूत एक दम गीली हो चुकी है और लगातार पानी छोड़ रही है. तभी वह भी मेरे कपड़े उतारने लगी. कुछ ही देर में मेरे सारे कपड़े मेरे बदन से अलग होकर बेड के एक कोने में पड़े नज़र आए.

मुझे नंगा करने के बाद उसने मेरे लन्ड को अपने मुंह में भर लिया और चूसने लगी. वह काफी देर तक मेरे लन्ड को चूसती रही. इस दौरान मैंने भी 69 की पोजीशन में होकर उसकी चूत को खूब चूसा. तभी उसने लन्ड मुंह से निकाला और कहा – अब मत तड़पाओ, मुझसे कंट्रोल नहीं होता, जल्दी से लन्ड मेरी चूत में डालो.

उसकी यह बात सुन कर मैंने उसे डॉगी स्टाइल में आने को कहा. वह आ गई. फिर मैंने पीछे से उसकी चूत पर लन्ड टिकाया और कमर को पकड़ के एक ही झटके में पूरा लन्ड उसकी चूत में घुसेड़ दिया और फिर धक्के लगाने लगा. अब वह ‘आह आह ओह्ह ओह्ह, फाड़ दो मेरी चूत, चोद चोद के भुर्ता बना दो इसका’ कहने लगी.

उसकी ऐसी मादक आवाजें सुन कर मैं और जोश में आ गया. फिर मैं और तेजी से चोदने लगा. फिर उसने कहा कि मुझे टॉयलेट आई है, बाथरूम जाना है. उसके मुंह से ये बातें सुन कर मेरे दिमाग में उसे बाथरूम में चोदने का आइडिया आया. फिर मैं उसे बाथरूम में ले गया और वहां जाने के बाद उसने कहा कि रुको तब तक मैं टॉयलेट कर लूं. लेकिन मैंने उसकी बातों पर कोई ध्यान नहीं दिया. उसे टॉयलेट की दीवाल से लगाया और फिर से लन्ड पेल दिया.

अब मैं फिर तेजी से धक्के मारने लगा. मेरे हर झटके पर वह अपने चूतड़ उठा – उठा कर मज़े ले रही थी. थोड़ी देर में उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया. इस वजह से चुदाई के दौरान फच्च – फच्च की आवाज आने लगी. ये आवाज मुझे और उत्तेजित कर रही थी. इसी उत्तेजना में मैं खुद को रोक नहीं पाया और लन्ड उसकी चूत में लीक कर गया. इसके बाद हम दोनों कुछ देर तक चिपक के वहीं बाथरूम में खड़े रहे. फिर हमने खुद के गुप्तांगों को साफ किया और बाहर आ गए.

उस दिन मैंने कुल 4 बार उसकी चूत मारी. उसके बाद मौका मिलने पर हमने कई बार चुदाई की. आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी? मुझे मेल करके जरूर बताएं. मेरी मेल आईडी – [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *