चुदवाकर कुंवारी लड़की को बुखार हुआ

अब कोमल से कंट्रोल नहीं हो रहा था तो उसने मुझे पकड़ा और ज़ोर – ज़ोर से मेरे होंठ चूसने लगी. करीब 2 मिनट तक होंठ चूसने के बाद उसने मेरे होंठों को छोड़ा. फिर मैंने कोमल की कमर के नीचे तकिया लगाया और फिर उसकी टाँग को ऊपर की ओर उठा दिया और लंड को उसकी चूत पर लगाने ही जा रहा था कि उसने अपनी चूत पर हाथ रख लिया और बोली, “अबन, ये मेरा पहली बार है आराम से करना”… Continue reading “चुदवाकर कुंवारी लड़की को बुखार हुआ”

चुदक्कड़ पड़ोसन को बर्थडे गिफ्ट देकर अपना बनाया

उसके बाद मैंने उसके कपड़े उतारे और उन्हें फर्श पर बिछा दिए. फिर उसने मेरे कपड़े भी निकाल दिए. अब मैंने उसे अपना लन्ड चूसने को कहा तो उसने अपनी चूत चाटने की भी बात की. तो मैं उसकी बात मान गया. फिर पहले मैंने अपना लन्ड उसके मुंह में दिया तो वो बिलकुल सेक्सी फ़िल्म की हीरोइन की तरह चूसने लगी और उम्म उम्म की अवाज निकालने लगी. जिससे मुझे तो पता चल ही गया था कि साली को लौंडे लेने का शौक है और ये पक्की चुदक्कड़ है… Continue reading “चुदक्कड़ पड़ोसन को बर्थडे गिफ्ट देकर अपना बनाया”

सास की नफरत से परेशान किराएदार भाभी ने बच्चे के लिए चुदवाया

अब जैसे ही वो ब्रा में आयी तो उसको देख कर मेरा लंड सलामी देने लगा. अब मैंने जल्दी से उसकी ब्रा को भी उतार दिया और फ़िर मैंने उसकी सलवार और पैंन्टी भी उतार दी. अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी. मैं उसको ऐसे देख रहा था लग रहा था कि मैं इसको खा ही जाऊँगा… Continue reading “सास की नफरत से परेशान किराएदार भाभी ने बच्चे के लिए चुदवाया”

भाभी, मेरी सेक्स गुरु भाग – 3

मैंने कहा, “बहुत मस्त पिक्चर थी यार, हीरोइन तो इतनी हॉट थी कि बता ही नहीं सकता”. स्मिता समझ गयी थी कि मैं रेखा की बात कर रहा हूँ. तभी स्मिता ने मुझे घूर के देखा और कहा, “क्या खाक हॉट थी, बुड्ढी थी बुड्ढी”. अब पंकज और मैं जोर – जोर से हँसने लगे. फिर पंकज ने कहा अरे पागल राहुल तुम्हें चिढ़ा रहा है और फिर हम लोग ऐसे हँसी मज़ाक करते रहे… Continue reading “भाभी, मेरी सेक्स गुरु भाग – 3”

भाभी, मेरी सेक्स गुरु भाग – 2

अब पंकज ने रेखा को उल्टा किया और उसकी टांगें पकड़ कर बेड के निचे लटका दी और अपने लंड के सुपारे को रेखा की मस्त गोरी, चिकनी और भरी हुयी गांड के छेद पर रख कर एक ही बार में लंड उसकी गांड में डाल दिया. चूंकि रेखा इसके लिए तैयार नहीं थी इसलिए उसके मुंह से एक बहुत तेज़ चीख निकल गई और रेखा ने कहा, “हरामी साले, मार डालेगा क्या? जा जाकर अपनी बीबी की गांड मार”… Continue reading “भाभी, मेरी सेक्स गुरु भाग – 2”

भाभी, मेरी सेक्स गुरू भाग – 1

उनके आंसू देख कर मैंने पूछा, “क्या हुआ?” तो उसने कहा, “आज वो काफी दिनों बाद इतना हंसी है”. तो मैंने कहा, “पंकज तुम्हें खुश नहीं रखता क्या?” तो स्मिता ने बताया कि पंकज का नीचे वाली किरायेदार रेखा के साथ चक्कर चल रहा है… Continue reading “भाभी, मेरी सेक्स गुरू भाग – 1”

साइंस टीचर बनी मेरी सेक्स टीचर

मैडम बोलीं, “मोहित, रिप्रोडक्टिव पार्ट्स मतलब कि सेक्ज़ुअल ऑर्गन. मैं तुम्हें आम ज़ुबान में सारी चीजें बेहद आसान करके समझाती हूँ. देखो, जिस्म के निचले हिस्से में तुम्हारा रिप्रोडक्टिव पार्ट है और मेरे जिस्म के निचले हिस्से में मेरा रिप्रोडक्टिव पार्ट. लड़कों के रिप्रोडक्टिव पार्ट को आम ज़ुबान में लंड कहते हैं और लड़कियों के पार्ट को चूत कहते हैं. अब एक काम करो तुम खड़े हो जाओ, मैं तुम्हें दिखाती हूँ”… Continue reading “साइंस टीचर बनी मेरी सेक्स टीचर”

नए कॉलेज का नया माल

अब वह मेरे लंड को लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. फिर हम 69 की पोजीशन में आ गए. अब वो मेरे लंड को चूस रही थी और मैं उसकी चूत को चाट रहा था. फिर हम 20 मिनट तक इसी पोजीशन में रहे. उसके बाद मैंने उसे सीधा लेटाया और फिर उसकी चूत चाटने लगा. करीब 10 मिनट की चूत चटाई के बाद उसने अपना पानी छोड़ दिया. मैं उसका सारा पानी पी गया… Continue reading “नए कॉलेज का नया माल”

दोस्त की बहन की सील तोड़ी

अब मेरे होंठ उसके होंठ पर थे और मेरा बायां हाथ उसकी बायीं चूची पर था और मेरा दायां हाथ उसकी चूत पर फिसल रहा था. जिस कारण उत्तेजना वश उसके मुंह से मादक सिसकारियां निकल रही थीं. अब मैं उसकी चूची को चूसते हुए नीचे की तरफ गया और उसकी नाभि में अपनी जीभ घुमाने लगा… Continue reading “दोस्त की बहन की सील तोड़ी”

पड़ोसी पनवाड़ी को घर बुलाकर मैं उसके लन्ड की दिवानी हुई

फिर उसने मेरे ब्लाउज के बटन खोले और मेरे बूब्स को आजाद कर दिया और मेरे रसीले बूब्स को अपने होंठों में लेकर वो चूमने, चाटने और मसलने लगा. इस सब में मुझे एक अलग ही एहसास आ रहा था और मैं ‘आह आह’ करके सिसकियां ले रही थी. फिर उसने मेरे पेटीकोट का भी नाड़ा खोल दिया और मुझे नंगा कर दिया. इधर मैंने भी उसकी अंडर वियर निकाल दी और सारे कपड़े बेड से नीचे जमीन पर फेंक दिये… Continue reading “पड़ोसी पनवाड़ी को घर बुलाकर मैं उसके लन्ड की दिवानी हुई”